• Latest News

    Gharelu Upchar. Blogger द्वारा संचालित.
    रविवार, 7 अगस्त 2016

    Gonorrhea- Sujak, Sujok 100 Treatment hindi

    Loading...

    Gonorrhea Sujak ke Upchar, Ilaj, Upay, Nuskhe - Gonorrhea Sjok Treament Hindi

    Sujak (Gonorrhea) के कारण- Sujak (Gonorrhea) वाले पुरुष या स्त्री के साथ सहवास करने से, एक-दूसरे में यह बीमारी पैदा हो जाती है. परुषों में मूत्र नली के एक इंच पीछे एक गढ़ा होता है. इसी गड्ढे से धीरे-धीरे बढ़कर यह रोह रोग मूत्र नली, मूत्राशय और अंडकोष तक फ़ैल जाती है. स्त्रियों में उनकी योनि के समीप वाले यन्त्र तथा मूत्र नली, मूत्राशय, जरायु आदि पहले से रोग ग्रस्त होते है. इस रोग वाली स्त्री के साथ सम्भोग करके पुरुष रोगी होता है तथ पुरुष के सम्भोग से स्त्री को रोग हो जाता है. इसके बाद रोगी स्त्री या पुरुष यदि किसी अन्य पुरुष या स्त्री से सम्भोग या मैथुन करती है यह बीमारी उसको दे देता है.Sujak (Gonorrhea) के रोगी के कपडे, तोलिया, साबुन, जूठन, सम्भोग, संसर्ग से भी यह रोग बड़ी तेज़ी से फैलता है.
    Gonorrhea treatment hindi
    Gonorrhea Treatment Hindi 

      Gonorrhea Sujak ke Lakshan

    Sujak (Gonorrhea) के लक्षण- (१) मूत्र मार्ग में शुरआत में हलकी जलन बाद में भंयकर जलन का रूप ले लेती है.
    (२ )लिंग में  खुजली या गुप्तांगो में  खुजली होती है.
    (३) पेशाब करते समय बेहद तेज  दर्द जलन होती है,
    (४) Sujak (Gonorrhea) रोग जड़ बढ़ जाता है तो पेशाब के साथ पीप भी आती है.
    पहले ये रोग लिंग और योनि तक सीमित रहता है बाद में पूरे शरीर में कही भी हो सकता है या पूरे शरीर में फ़ैल जाता है. इस रोग के शरीर में मस्से भी हो जाते है. Sujak (Gonorrhea) का विष जोड़ो का दर्द का कारण भी बन जाता है साथ ही आँखों में जलन भी पैदा करता है. Sujak (Gonorrhea) से पेशाब भी साफ़ नही होती है. Sujak (Gonorrhea) में पेशाब बार-बार मगर कई धार में या बून्द-बून्द  करके होता है. पैर फैलाकर चलना पड़ता है. Sujak (Gonorrhea)  रोग रात को  बहुत बढ़ जाता है.
    इस लक्षण के अलावा हल्का बुखार भी Sujak (Gonorrhea) रोगी को रहता है, जाड़ा या कंपकपी लगती है और सर में दर्द भी महसूस होता है.

    Sujak (Gonorrhea) me Kya Khaye aur kya nahi- Ayurvedic medicine

    Sujak (Gonorrhea) में भोजन तथ परहेज -
    (1) खट्टे पदार्थ, मिर्च-मसाले, मांस, शराब तथा मैथुन आदि बिलकुल भी करे.
    (2)जब तक प्रमेह या Sujak (Gonorrhea) बिलकुल भी ठीक हो जाये, तब तक शरीर में उतेजना पैदा करने वाली दवा का उपयोग बिलकुल भी करे.
    (3) सबसे पहले जुलाब लेकर पेट साफ़ करेजुलाब हल्का ले. इसके लिए दो कप पानी में पंचसकार चूर्ण एक चम्मच डालकर काढ़ा बनाकर पिए.
    (4) साइकिल, मोटरसाइकिल आदि चलए तथा नरम बिस्टेर पर सोये.
    (5) भोजन हल्का, सुपाच्य तथा शारीरिक छमता के अनुसार खाये.

    Sujak (Gonorrhea) Ke Ayurvedic Gharelu Upchar, Nuskhe aur Ilaj

    Sujak (Gonorrhea)- सूजाक प्रमेह आयुर्वेदिक घरेलु उपचार
    (1) Sujak Treatment Hindi - पिसी हुई फिटकरी भून ले. इसमें से एक चुटकी चूर्ण शहद के साथ सेवन करे Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जायेगा.
    (2) Sujak Upchar - गिल्सरीन, निम्बू का रस, अर्क गुलाब, तुलसी के पत्तो का रस- इस सभी को मिला ले. यह लेप रोज़ उपयोग में लेन से Sujak (Gonorrhea)  रोग ठीक हो जाता है.
    (3) Sujak Gharelu Upchar - Sujak (Gonorrhea) के रोगी को हल्का जुलाब देकर उसका पेट साफ कर देना चाहिए.
    (4) Sujok in Hindi - कच्चे दूध में बराबर जल मिलाकर लस्सी बनाकर भर पेट पिए, यह उपचार पेशाब  का जुलाब है.
    (5) Sujak ka ilaj- दही की लस्सी में - ग्राम जवाखार मिलाकर पीने से पेशाब बहुत आता है Sujak (Gonorrhea) रोग ठीक करने के बहुत उत्तम है.
    (6) Sujak disease in hindi - ककड़ी के बीज ग्राम को २५० और कलमी शोरा डेढ़ ग्राम फांककर ऊपर से लस्सी पानी मूत्र- रेचक है.
    (7) Sujak bimari - ताजा गिलोय १२ ग्राम को २५० ग्राम पानी में रात को भिगो दे. सुबह अच्छी प्रकार से मसल, छानकर ६० ग्राम शहद मिलाकर पिए. एक गोली चंद्रप्रभावटी कहकर ऊपर से यह पानी पिया जाया तो उससे पेशाब की जलन और मवाद निश्चय ठीक हो जाएगा.Sujak (Gonorrhea) के बहुत उत्तम नुस्खा है.
    (8) Sujak Desi Upchar - राल के चूर्ण में बराबर मात्रा में देसी शक्कर मिलाकर रोगी को ये चूर्ण सुबह-शाम दे, Sujak (Gonorrhea)  से पीप निकलना बंद हो जाती है.
    (9) Sujak dur karne ke Nuskhe - बड़ की कोपलो के छाया में सुखाये गए चूर्ण में बराबर वजन में देसी खांड मिलाकर सुबह के समय १० ग्राम लेकर ऊपर से दूध की लस्सी पिलाये. यह उपचार दिन करने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जायेगा.
    (10) Gonorrhea ka desi ilaj - हल्दी, आंवला (सूखे हुए) मिश्री बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण तैयार कर ले. ये चूर्ण १०-१२ ग्राम ताजा जल से एक सप्ताह तक लेने से ही Sujak (Gonorrhea) जड़ से ठीक हो जाता है.
    (11) Gonorrhea ka ilaj - लौकी की खीर खाने से नया हुआ Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (12) Gonorrhea treatment - नीम के गोंद में मिश्री मिलाकर खाना Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (13) Gonorrhea disease treatment hindi - बरगद के दूध को शक्कर के बताशे में भरकर कुछ दिन तक सुबह शाम  खाने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (14) Gonorrhea in hindi - पुराने सुजाक (Gonorrhea)  में भूनकर पीसी गई फिटकरी रत्ती की मात्रा में शहद  के साथ दे.
    (15) Gonorrhea ayurvedic medicine - हरे आंवले के स्वरस में पिसी हुई हल्दी शहद मिलाकर पिलाने से Sujak (Gonorrhea) में बहुत लाभ होता है.
    (16) Gonorrhea cure - केले के तने का ताजा रस Sujak (Gonorrhea) के रोगी को पिलाने से Sujak (Gonorrhea) में बहुत आराम मिलेगा. साथ ही पेशाब खुलकर होने लगेगा.
    (17) Gonorrhea discharge treatment hindi - मक्के के भुट्टे के कोमल ताजा रेशो (ऊपर के बाल) का काढ़ा बनाकर पीने से वेदना या दर्द का नाश होता है. मूत्र खुलकर आता है और Sujak (Gonorrhea) एक दम ठीक हो जाता है.
    (18) Gonorrhea drugs - Sujak (Gonorrhea) रोग की स्थिति के अनुसार १५-१५ ग्राम की मात्रा में काले तिल तथा  खांड बारीक पीसकर गाय के कच्चे दूध की लस्सी के साथ सेवन करने से Sujak (Gonorrhea) में बहुत लाभ मिलेगा.
    (19) Gonorrhea medicine - चौलाई के पत्तो का रस २० ग्राम को १०० ग्राम ताजा पानी में मिलाकर दिन में दो बार सुबह शाम पिलाने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (20) Gonorrhea home treatment - फिटकरी गुड़ को बराबर मात्रा में ले, मिश्रित कर - ग्राम की गोलिया बना ले. सुबह खाली पेट Sujak (Gonorrhea) रोगी को  खिलाकर लगभग ५०० ग्राम मट्ठा पिलाने से दिन में Sujak (Gonorrhea) रोगी ठीक हो जाता है.
    (21) Gonorrhea hindi - बड़ी इलायची के बीज मीठा सोडा - ग्राम - दोनों के योग को लाल-साठी चावल के धोवन के साथ दिन तक देने से Sujak (Gonorrhea) रोग ठीक हो जाता है.
    (22) Gonorrhea in men - गाय के दूध के दही में सहजने का  गौंड मिलाकर १४ दिन तक Sujak (Gonorrhea) रोगी को देने से सुजाक बहुत ज्यादा लाभ मिलता है.
    (23) Gonorrhea Gharelu Upchar - - ग्राम कच्ची फिटकरी पीसकर फांक जाये और कच्ची लस्सी में शक्कर घोल के पी ले. Sujak (Gonorrhea) रोग में जरूर लाभ होगा.
    (24) Gonorrhea Gharelu Ilaj- कच्चे दूध में पानी मिलाये, कच्ची लस्सी तैयार करे. भूखे पेट मूली-गाजर का रस पिए. दिन  में Sujak (Gonorrhea) रोग सुख जायेगा. कच्ची फिटकरी फाकी जाये तो फिटकरी के बराबर मिश्री मिला ले.
    (25) Gonorrhea Gharelu Nuskhe - पेशाब करते समय जलन होती है और Sujak (Gonorrhea) रोग ज्यादा होने पर पेशाब टपक- टपक कर  बहुत दर्द से होता है इतना दर्द होता है की Sujak (Gonorrhea) रोगी मरना पसनद  करे. ऐशे में ग्राम फिटकरी एक गिलास पानी में घोल ले और पी जाये कुछ दिन ये पानी peene से Sujak (Gonorrhea) रोग ठीक हो जाता है.
    (26) Gonorrhea Gharelu Upay - Sujak (Gonorrhea) होने पर - ग्राम पिसी हुई हल्दी की फंकी पानी के साथ रोज दिन में बार लेने से यह रोग ठीक हो जाता है.
    (27) Gonorrhea Desi Ilaj - गेरू भुनी फिटकरी का चूर्ण - ग्राम, ग्राम मिश्री में पीसकर एक मात्रा तैयार करे. इसको लेकर ऊपर से गाय गाय का कच्चा दूध पिए. 21 दिन में सुजाक जड़ से ख़तम आप एक दम निरोगी हो जायेगे.
    (28) Gonorrhea Desi Upchar - पिचकारी का उपयोग- ३० ग्राम कपूर के पानी में रत्ती अफीम घोलकर सुबह शाम पिचकारी ling के अंदर डालने से अंदर के घाव ठीक होते है Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (29) Gonorrhea Desi Upay - त्रिफले के हलके गरम काढ़े में लिंग को डुबोकर रखने से लिंग की सूजन उतर  जाती है.यह उपचार kaai दिन तक करना चाइये जब तक सूजन उतर जाये.
    (30) Gonorrhea Desi Nuskhe - निम्बू, इमली, नीम मेहदी -सभी के २५-२५ ग्राम पत्तो को  एक किलो जल में  मात्र ६०० ग्राम के लगभग जल बचा रहने तक उबाले. इस काढ़े की दिन में - बार पिचकारी लिंग में लगने से Sujak (Gonorrhea) रोग जड़ से ठीक हो जाता है.
    (31) Gonorrhea Desi Nuskhe - सफ़ेद चन्दन को पानी में घिसकर पिचकारी देने से पुराना Sujak (Gonorrhea) भी ठीक हो जाता है.
    (32) Gonorrhea Ayurvedic Treatment hindi - Sujak (Gonorrhea) के रोगी इन चीज़ों से बचना चाहिए- गुड़, तेल, मीठी, अचार, कसरत, साईकिल या घोड़े के सवारी, घूमना, मुलायम bistar, प्याज, दही, मिर्च, मुरब्बा, खट्टी चीज़े, शराब, धूम्रपान, रात को जागना, उरद की दाल आदि गरिष्ट चीज़ों, उत्तेजक, नशीले पदार्थ.
                                       पति- पत्नी में से किसी को भी Sujak (Gonorrhea) को usko दवा और परहेज दोनों कारण चाहिए साथी अपने साथी को भी जरूर Sujak (Gonorrhea) की दवा का सेवन कराये.
    (33) Gonorrhea Ayurvedic treatment - बबूल की कोपल को रात में पानी में भिगोकर चाँदनी रात में रखे, फिर सुबह इस पानी को खली पेट पीने से Sujak (Gonorrhea) व पेशाब की जलन ठीक हो जाती है. या तीन टोला ग्राम घी मिलकर पिए. दूसरे दिन बभी ऐसा ही करे, तीसरे  दिन उसमे घी नहीं डेल तथा ऐसा फिर बिना घी का panni ७ दिन tak लगातार पीने से Sujak (Gonorrhea) में बहुत laabh milta है.दस्त होने पर इसका काढ़ा पीने से दस्त बंद हो जाते है.
    (34) Gonorrhea Ayurvedic Ilaj - बबुल के गोंद के पांनी की पिचकारी Sujak (Gonorrhea) के रोगी की मूत्रेन्द्रिय में लगने से मूत्राशय की सूजन, सुजाक की जलन और पीप दूर हो जाते है.
    (35) Gonorrhea Ayurvedic Upchar - आम के पेड़ की छाल लगभग ३०-४० graam वजन में लेकर मोटा-मोटा कूट ले और पाव भर पानी डालकर शाम में रख  दे. ऊपर से ढक दे.सुबह इसे खूब मसलकर छान ले और पी जाये. सुजाक के रोगी बहुत ज्यादा आराम मिलता  है. यह उपचार तब उपयोग करते रहे जब तक आपको आराम रहे.
    (36) Gonorrhea Ayurvedic Upay - Sujak (Gonorrhea) या प्रमेह के विकारो में दुब का स्वरस अनावश्यक वीर्य स्राव को रोकता है. मूत्र मार्ग में जलन को शांत करता है.
    (37) Gonorrhea Ayurvedic cure - Sujak (Gonorrhea) त्वचा की भयानक बीमारी में से एक है din में -4 बार हल्दी चूर्ण की फंकी पानी के साथ ले. मिश्री के साथ मिलाकर पानी के साथ ले अथवा २० ग्राम पिसी हल्दी, २० ग्राम पिसी फिटकरी और ३० ग्राम पिसा गुड़ मिलाकर छोटी-छोटी गोलिया बना ले. रोज खाली पेट एक गोली पानी के साथ निगल ले. इस दौरान १०-१५ दिनों तक तैलीय, गरिष्ट आमचूर की खटाई वाले भोजन का सेवन बंद कर दे.
    (38) Gonorrhea Ayurvedic Medicine - ब्राह्मी स्वरस ग्राम तथा बेलपत्र स्वरस ग्राम मिलाकर पीने से Sujak (Gonorrhea)  जड़ से ख़तम हो जाता है.
    (39) Gonorrhea Ayurvedic Tablet - कलमीशोरा, बड़ी इलायची  के दाने- दोनों ५०-५० ग्राम पीसकर छान ले. सुबह - घंटे में तीन बार आधा दूध आधा पानी की लस्सी के साथ २४ दिन तक ले Sujak (Gonorrhea)  ठीक हो जायेगा.
    (40) Gonorrhea Ayurvedic Dava - खरबूजे के बीज की एक मुठी गिरी पीसकर शरबत बना ले. उसमे १० बून्द चन्दन के तेल की मिलाये और रोगी को पिलाये. Sujak (Gonorrhea)  रोग जब तक जड़ से ठीक हो जाये पिलाते रहे.
    (41) Gonorrhea Rog Davaखीरे के रस में कलमी शोरा मिलाये और रोगी को पिला दे. Sujak (Gonorrhea)  की जहरीली जलन लिंग में शांत हो जाएगी.
    (42) Gonorrhea Ki dava - Sujak (Gonorrhea)  में रोगी को पेशाब नही हो रहा है तो तरबूज का रस को पिलाये. परषाब खुलकर आएगा.
    (43) Gonorrhea Dava - आम की नरम पत्तियो को सुखाकर भी रखा जा सकता है. Sujak (Gonorrhea), प्रमेह, पेचिश की दशा में सुबह-शाम पीसकर फकने से रोग ठीक हो जाते है.
    (44) Sujak rog kya hai - रात को सोते समय तुलसी के बीज (मंजरी) पानी में भिगो दे. सुबह के समय उसको पीसकर छानकर मिश्री मिलाकर पीने से प्रमेह, Sujak (Gonorrhea)  और स्वपनदोष से छुटकारा मिल जाता है.
    (45) Gupt rog sujak - करेला प्रमेह, रक्त विकार में बहुत गुणकारी है.
    (46) Sujak rog - प्रमेह में बाबुल की छाल का क्याथ या चाय बनाकर पीने से बहुत फायदा होता है.
    बार-बार पेशाब होने, प्रमेह रोगी में अनार की कली, कत्था, मिश्री बराबर मिलाकर - चम्मच दिन में दो बार लेने से आराम हो जाता है.
    (47) Sujok Rog Hindi - त्रिफला चूर्ण आधा चम्मच मात्रा में, चम्मच पिसी हल्दी और दो चम्मच पिसी मिश्री- तेनो को मिलाकर इतना शहद मिलाये की चटनी सी बन जाये. शहद से आधी मात्रा में घी मिला ले और इसे चाट ले. लगातार सुबह शाम इसको सेवन करने से सब प्रकार के प्रमेह मूत्र विकार ठीक हो जाते है.
    (48) Sujok Ki dava - प्रमेह के रोग में तीन ग्राम नीम की पत्तियो को एक कप पानी में उबालकर काढ़ा बनाकर पीने से लाभ होता है.
    (49) Sujok Ka desi Upchar - सिरस के  बीज की गिरी १० ग्राम और २० ग्राम मिश्री दूध में फेट ले.१८ दिन तक रोज लेने से Sujak (Gonorrhea)  ठीक हो जाता है.
    (50) Sujok Dur Karne Ke Nuskhe - सिरस के नाव अंकुर चाय में सुखाकर पीस ले. तीन-तीन ग्राम सुबह-शाम दूध के साथ ले. वीर्य गढ़ा होगा और प्रमेह थमने लगेगा.
    (51) Sujok Dva - निम्बू, नीम तथ मेहंदी के पत्तो को थोड़े से पानी में उबले. पानी जब आधा बचा रह जाये तो इस काढ़े से शिश्न (लिंग) को अछि तरह धोये. Sujak (Gonorrhea) रोग जड़ से ठीक हो जायेगा.
    (52) Sujok Ka Ilaj - कलमीशोरा तथ बड़ी इलायची के दाने २५-२५ ग्राम की मात्रा में पीसकर सुबह दूध से लेने से Sujak (Gonorrhea) रोग ठीक हो जायेगा.
    (53) 7 days after gonorrhea treatment - एक चम्मच त्रिफला चूर्ण, एक चम्मच पीसी हुई हल्दी और दो चम्मच पीसी हुई मिश्री मिलकर शहद के साथ धीरे धीरे चाटे. Sujak (Gonorrhea) में बहुत फायदा होगा.
    (54) Gonorrhea untreated for 7 months - थोड़े से पके केले धुप में सूखा ले और सूखने पर पीस ले. फिर इसमें थोड़ी सी शक्कर मिलकर एक चम्मच चूर्ण, दूध के साथ खाये. सुजाक ठीक हो जायेगा.
    (55) Gonorrhea treatment 7 days- बिरोजा का तेल, गंधक, चन्दन का तेल, नीम का पानी तथा पोटैशियम परमैग्नेट को मिलाकर लिंग के अंदर पिचकारी से धोना चाहिए. इस उपचार से Sujak (Gonorrhea) रोग ठीक हो जाता है.
    (56) Gonorrhea test after 7 days - -१० बून्द बरगद का दूध बताशे में रखकर लगभग १५ दिन तक सेवन करने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (57) Gonorrhea kissing- बबुल की कोपले रात को पानी में भेगो दे. सुबह इस पानी को छानकर पी जाये. प्रमेह से सम्बन्धित पेशाब की जलन जाती रहेगी.
    (58) Gonorrhea ka ilaj - १० ग्राम बबूल की छाल का काढ़ा बनाकरकुछ दिन टाक लगातार सेवन करने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (59) Gonorrhea ka Upchar - पालक के बीजो का चूर्ण तीन ग्राम की मात्रा में दिन में तीन बार सेवन करने से सुजाक ठीक हो जाता है.
    (60) Gonorrhea ke Nuskhe - एक कप नीम की पत्तियो का काढ़ा कुछ दिन तक लगातार सेवन करने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (61) Gonorrhea Ke Upay - ग्राम तुलसी की  मंजरी कप पानी में भिगोकर पीस ले. फिर उसमे मिश्री मिलाकर सेवन करे. यह दावा १५ दिन तक चलाये .सुजाक रोग में जरूर फायदा होगा.
    (62) Gonorrhea Dur karne ke Upay - रोज चौलाई के पत्तो का रस २० ग्राम हल्दी तथ २५ ग्राम मिश्री. तेनो को लेकर तथ पीसकर चूर्ण बना ले. इस चूर्ण में से १० ग्राम चूर्ण रोज १५ दिन तक सेवन करने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (63)  Gonorrhea se kaise bache - करेले  का दो चममच रस रोज सेवन करने से Sujak (Gonorrhea) में बहुत फायदा होता है.
    (64) Gonorrhea ke desi ilaj - भिन्डी के पौधों की थोड़ी सी जड़ो को धोकर सूखा ले. फिर पीसकर चूर्ण कर ले. इसमें थोड़ी सी मिश्री मिला ले. इस चूर्ण में १० ग्राम चूर्ण कुछ दिनों तक दूध के साथ रोज सेवन करे Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जायेगा.
    (65) Gonorrhea ke Desi Upay - भुनी फिटकरी  को दो-दो chutkki में मिश्री मिलाकर गाय के दूध के साथ सेवन करने से Sujak (Gonorrhea) khatm हो जायेगा.
    (66) Gonorrhea Treatment hindi me - बड़ी इलायची के ग्राम दाने तथा मीठा सोडा ग्राम. दोनों को मिलाकर पीस ले. इसे साठी के चावलो के मांड के साथ सेवन करने Sujak (Gonorrhea) जल्दी ठीक होगा.
    (67) Gonorrhea home Remedies hindi - बादाम गिरी - तथ चन्दन का बुरादा एक चुटकी, दोनों को मिलाकर पीस ले. फिर इसमें मिश्री मिलाकर उपयोग करे Sujak (Gonorrhea) में फायदा करेगा.
    (68) Gonorrhea Home base Treatment - Sujak (Gonorrhea) की बीमारी दूर करने के लिए कुछ दिनों तक चम्मच खीरे के रस में आधा चम्मच कमलीशोरा मिलाकर रोज पिए.
    (69) Gonorrhea remedy - गाय के दूध या दही में नीम की दो निबोली मथकर रोज पिलाये Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जायेगा.
    (70) Gonorrhea Cure Tips Hindi - रोज १० ग्राम पके हुए फालसे खाते रहने से Sujak (Gonorrhea)  का रोग काम होता रहेगा,
    (71) Gonorrhea Cure - केले के तने का तजा रस एक चम्मच रोज रोगी को पिलाने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जाता है.
    (72)  Gonorrhea Cure medicine - कत्था, अनार के छिलके तथ मिश्री - ग्राम में लेकर पीस ले. इस दावा को दो खुराक करके सुबह शाम सेवन करने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जायेगा.
    (73) Gonorrhea ke Bachne ke Upay - खरबूजे के बीज १० ग्राम पीसकर उसमे चन्दन की १० बुँदे मिलाकर सेवन करने से Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जायेगा.
    (74) Gonorrhea Ayurvedic Ilaj - गाय के घी में तला हुआ बबूल का गौंद और मोचरस १०-१० ग्राम शिलाजीत शुद्ध और सतगिलोय - ग्राम, रूमी मस्तांगी, छोटी इलायची के दाने, वश lochan और वंश भस्म - ग्राम, इमली के चिये, बड़ा गोखरू और संगजहारत २०-२० ग्राम तथ शीतल चीनी १५ ग्राम लेकर सभी चीज़ों कूट छान ले.
    मात्रा- - ग्राम यह चूर्ण दूध की लस्सी के साथ सुबह शाम सेवन करना चाहिए. यह सुजाक में बहुत फायदेमंद है.
    (75) Gonorrhea Nuskhe- चन्दन का उत्तम तेल बुँदे और बिरोजा का तेल बुँदे ले. दोनों को मिलाकर बताशे में रखे और  खाकर ऊपर से कच्चा दूध पिए सुजाक में बहुत  फायदा होगा.
    (76) Sujok-Upchar - १० ग्राम ग्वारपाठा के गूदे में थोड़ी सी मिश्री मिलकर १५ दिन तक खाये, Sujak (Gonorrhea) ठीक हो जायेगा.
    (77) Gonorrhea Treatment hindi - चीनी मिश्रित कतीरे के ऊपर गाय का दूध पीने से पुराने से पुराना सुजाक रोग जड़ से ख़त्म हो जाता है.
    (78) रात को त्रिफले के पानी में चने भिगोकरसुबह के समय उन चनो को खिलाये. Sujak (Gonorrhea)  में बहुत लाभ होगा
    (79) Gonorrhea Ayurvedic Nuskhe - सुजाक जैसी पीड़ा दाई बीमारी में बादाम की गिरी के ७ दाने, तीन माशा चन्दन का बुरादा मिलाकर पीस ले. मिश्री के साथ मिलाकर पानी के साथ din ३-4 बार पानी से इस बीमारी में रहत मिलती है.

    • Blogger Comments
    • Facebook Comments
    Item Reviewed: Gonorrhea- Sujak, Sujok 100 Treatment hindi Rating: 5 Reviewed By: Unknown
    loading...
    Scroll to Top